आमजन के लिए आमजन द्वारा

सब इंतजार करते रहे, वो आए ही नहीं

134

राकेश शर्मा/कांगनी/भीलवाड़ा – आधार कार्ड से वंचित रहे गए बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के लिए राजस्थान सरकार ने हाल ही में आदेश जारी किए है लेकिन जमीन पर यानि गांवों में इस आदेश की पालना होती नजर नहीं आ रही है। भीलवाड़ा जिले के कांगणी गांव में सोमवार को विशेष आधार शिविर लगाया जाना था। गांव के सरकारी विद्यालय में यह शिविर किया जाना था, ग्राम पंचायत क्षेत्र के लोग अपने बच्चों को लेकर शिविर में पहुंचे लेकिन आधार कार्ड बनाने वाले लोगों के शिविर में नहीं आने के कारण शिविर हो ही नहीं सका।

राज्य सरकार के निर्देश अनुसार सहाड़ा तहसील क्षेत्र के कांगनी, उदलियास, सिरोही खेड़ा, गाडरी खेडा, गाडरीयावास, जंगलियाबस्ती, मांडियामंगरी सहित सभी सरकारी विद्यालय में लगाया जाने थे।

इन शिविरों में आधार कार्ड से वंचित रह गए बच्चों के कार्ड बनाए जा सकते है। छः मार्च से आठ मार्च तक शिविर लगाकर विद्यालय के बच्चों के आधार कार्ड बनाये जाने है। सोमवार छः मार्च को आधार कार्ड बनाये जाने थे। कांगनी पंचायत के रघुनाथपुरा का युवक नाना लाल सालवी एक किमोमीटर दूर से पैदल चल कर अपने बच्चों के साथ शिविर में पहुंचा, कार्ड बनवाने के लिए यहां तकरीबन तीन घंटे तक इंतजार किया और अंततः थक कर वापस घर चला गया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक भी उसके आने का इंतजार करते रहे लेकिन विद्यालय मे कोई भी आधार कार्ड बनवाने वाले ऑपरेटर नही ंपहुँचा ।

प्रधानाचार्य महेन्द्र कुमार जैन, जंगलिया बस्ती के प्रधानाध्यापक पुरणमल सालवी, मांडिया मंगरी के प्रधानाध्यापक राम चन्द सुवालका ने बताया कि बच्चों के आधार कार्ड बनवाने थे। सभी के आवेदनों की तैयारी कर ली थी लेकिन ओपरेटर के नहीं आने के कारण लोगों को निराश होना पड़ा।

Comments are closed.