आमजन के लिए आमजन द्वारा

बजरी माफिया गिरोह का खुलासा, दो गिरफ्तार

स्पेशल टास्क फोर्स टीम ने की कार्यवाही

18

 

भीलवाड़ा– जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट के निर्देश पर बदनोर के एसडीएम अतहर आमिर खान (आईएएस) के नेतृत्व में गठित संयुक्त स्पेशल टीम ने जिले में फैले संगठित बजरी माफिया गिरोह तक पहुंचने में सफलता हासिल करते हुए दो जनों को गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनों की गिरफ्तार के बाद पूछताछ में कई बडे खुलासे होने तथा कई चेहरे बेनकाब होने की संभावना है।

जिले में अवैध बजरी दोहन और बजरी माफियों पर लगाम कसने के लिए 4 दिन पूर्व ही जिला कलेक्टर ने निर्देश दिए थे। स्पेशल टीम के प्रभारी अतहर आमिर खान (आईएएस) ने आज मीडिया से बातचीत करते हुए यह जानकारी देते हुए बताया कि यह संगठित गिरोह व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाकर पुलिस व माइंनिग विभाग की धरपकड़ टीम की रेकी करते थे और इन दोनों ग्रुप से आगे से आगे सूचनाएं देते ताकि टीम पहुंचने से पहले ही माफिया वहां से निकल जाए। इनसे अब तक 15 ट्रेक्टर और 3 डंपर जब्त किए है और कार्यवाही जारी रहेगी। उहोंने ने कहा कि इन बजरी माफियाओं को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा चाहे वह कितना ही बड़ा ओहदे वाला क्यों ना हो।
जानकारी के अनुसार माफियाओं ने जयमहाकाल के नाम से व्हाट्सएप्प ग्रुप बना रखा था, जिसमें 150 सदस्य थे और दूसरा ग्रुप “भाई-भाई का प्यार” नाम से बना रखा था, जिसमें 219 सदस्य थे।
जय महाकाल व्हाट्सएप्प ग्रुप के एडमिन भवानी नगर भीलवाड़ा निवासी राधेश्याम गुर्जर तथा “भाई-भाई का प्यार” ग्रुप के एडमिन पुर निवासी प्रकाश पुत्र अशोक शर्मा है।
थाने के बाहर इनका एक सदस्य बाइक पर खड़ा रहता था और जैसे ही टीम बाहर निकलती वह फोलो करता, एक निश्चित स्थान के बाद दूसरा व उसके बाद तीसरा सदस्य सूचना देता। इस तरह यह नेटवर्क काम कर रहा था। इस नेटवर्क में काम करने वाले को 9000 हजार रूपये दिए जाते थे।
टीम प्रभारी अतहर आमिर खान ने बताया कि अगर कहीं भी अवैध बजरी का दोहन हो रहा है या अवैध बजरी के ट्रेक्टर या डंपर जा रहे है तो तत्काल सूचना 95878-61786, 89468-66962 व 98879-79147 नंबर पर दे सकते है।
उन्होंने बताया कि अगर कोई खातेदारी जमीन पर भी बिना साइंसेस के बजरी का अवैध दोहन हो रहा है तो उस खातेदार के खिलाफ भी माइनिंग एक्ट के तहत कार्रवाई होगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com