Homeलेखसामाजिकतम्बाकू के ’सादे पैकेट’ पर चित्रमय चेतावनी क्यों है अधिक प्रभावकारी?