आमजन के लिए आमजन द्वारा

देश के कैंसर; आतंकवाद के खिलाफ उठ खड़े हुए कैंसर रोगी

पुलवामा शहीदों को नवग्रह आश्रम के कैंसर रोगियों ने दी श्रृद्धाजंलि

22
मूलचंद पेसवानी/भीलवाड़ा/शाहपुरा – भीलवाड़ा जिले के मोतीबोर खेड़ा में संचालित श्री नवग्रह आश्रम में रविवार को हुए साप्ताहिक चिकित्सा शिविर में पुलवामा में शहीद हुए सैनिकों की शहादत को सलाम करते हुए कैंसर सैनिकों ने कहा कि हमारे व्यक्तिगत कैंसर का उपचार तो करा लेंगे पर देश के कैंसर आंतकवाद को नेस्तनाबूद करने के लिए केंद्र सरकार को कड़ा उठाना चाहिए। कैंसर सैनिकों ने इस बात की प्रतिज्ञा भी ली कि देश के केंसर आतंकवाद को समाप्त करने के लिए वो अपने आस पास देशर्द्रोह की कोई घटना नहीं होने देगें।
शनिवार व रविवार को दोनो दिन देश भर से जुटे कैंसर रोगियों ने जब देश के शहीदों की शहादत को याद किया तो आश्रम संचालक हंसराज चोधरी ने उनके जज्बे को सलाम करते हुए एक कविता कहां है इसका ललाट, कैसे चूमू इसको, ये गोली सीने में खाता तो हंस कर लेता पर गद्दारों ने पीठ में घोंपा खंजर तो कैसे सह लूं सुनायी, तो कैंसर सैनिकों से आंतकवाद के खिलाफ उठ खड़े होने का आव्हान किया। इस पर कैंसर सैनिकों ने जज्बा दिखाते हुए कहा कि हमारे कैंसर को तो ठीक कर लेगें पर देश के केंसर आतंकवाद को कैसे ठीक करें। इसके लिए तो केंद्र सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी होगी।
आश्रम के संस्थापक हंसराज चोधरी ने शहीदों की भांवाजलि देते हुए कहा कि आश्रम के प्रयासों से आज कैंसर रोगियों ने भी राष्ट्रभक्ति का परिचय देते हुए आतंकवाद के खिलाफ काम करने का संकल्प लेते हुए इस बात की भी प्रतिज्ञा ली है वो वो स्वयं भी तन, मन व धन से देश के लिए काम करेगें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com