आमजन के लिए आमजन द्वारा

पूर्णाहूति यज्ञ के साथ श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ पूर्ण

भागवत कथा समाप्त नही होती, कुछ देर विराम लेती है : पं. स्कन्द कुमार पंड्या

63

रवि मल्होत्रा/उदयपुर – श्रीमद् भागवत कथा कभी समाप्त नहीं होती, भागवत तो एक धर्म की यात्रा है, कुछ समय के लिए जरूर ठहराव हो जाता है, लेकिन धर्म की यह भागवतमयी पताका हमेशा लहराती रहती है। कहने के लिए भले ही आज यहां भागवत कथा की पूर्णाहूति हुई है, लेकिन यह भागवत कल फिर कहीं ओर शुरू होगी तो परसों कहीं ओर। यह बात मेवाड़ राजवंशीय कथा वाचक पं. स्कन्द कुमार पंड्या ने विवेक नगर सेक्टर 3 के शिव मंदिर में चल रही भागवत कथा आयोजन के अंतिम दिन व्यास पीठ से भक्तों से कही। पंड्या ने बताया कि सुकदेव द्वारा राजा परिक्षित को भागवत कथा सुनाने के बाद परिक्षित के मन से सांप के काटने का भय निकल जाता है, भागवत के श्रवण मात्र से ही हमें मोक्ष की प्राप्ति होती है।

शाम को श्रीजगत शिरोमणि मंदिर मे कथा वाचन करते हुए पं. स्कन्द कुमार पंड्या ने कहा कि मनुष्य चाहे इस जन्म में प्रभु का स्मरण और भजन करे या अगले जन्म में, करना तो पड़ेगा, वह भी स्वंय को। चाहे सौ जन्म क्यों ना लेने पड़े। जन्म – मरण के इस चक्र से बाहर निकल कर अगर मोक्ष प्राप्त करना है तो सत्संग, भजन और प्रभु को आत्मसात् करना होगा तभी मोक्ष प्राप्त होगा।

पूर्णाहूति यज्ञ में दी आहूतियां
कथा प्रवक्ता अभिशेक जोशी ने बताया कि अंतिम दिन की कथा के बाद पं. स्कन्द कुमर पंड्या के सानिध्य में पूर्णाहूति यज्ञ किया गया, जिसमें कथा आयोजक प्रहलाद मिश्रा, प्रवीण मिश्रा, मयंक, विनोद, शैलेश मिश्रा, भावेश शर्मा ने जोड़े से आहूतियां दी। इसके साथ ही अन्य भक्तों ने भी यज्ञ में आहूति देकर भागवत की पूर्णता का लाभ लिया। पूर्णाहूति यज्ञ के बाद श्रीकृष्ण स्वरूप भागवत पोथी को सिर पर धारण कर गाजे- बाजे के साथ सेक्टर 3 से परिक्रमा करते हुए महाराज श्री के निवास पहुचाँया गया।

आयोजन सहयोगियों का किया सम्मान
कथा आयोजक प्रहलाद मिश्रा ने बताया कि पुरूषोत्तम मास के इस पवित्र महीने में कथा के आयोजन में कथा प्रसंगो पर विभिन्न झाँकियों में अलग-अलग रूप में नजर आने वाले वृन्दावन के कलाकार विष्णु शर्मा, भगवान दास, रवि शर्मा, दीपक परिहार, आशीष गोराणा सहित श्रीमद् भागवत कथा की आरती के निर्माता अभिषेक जोशी व अन्य व्यवस्था सहयोगियों को व्यास पीठ से पं. स्कन्द कुमार पंड्या द्वारा ओपरणा ओढ़ा कर सम्मानित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com