आमजन के लिए आमजन द्वारा

कांग्रेस की ये कमेटियां देगी भाजपा को जवाब

43

जयपुर – राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की कमेटियों का गठन हो गया है। इन सूचियों पर अशोक गहलोत और सचिन पायलट की छाप देखी जा सकती है लेकिन सबसे हैरानी भरा निर्णय अजमेर सांसद रघु शर्मा को कैंपेनिंग कमेटी का चेयरमैन बनाने को लेकर है। रघु शर्मा को मिली जिम्मेदारी के बाद ये माना जा सकता है कि वे कांग्रेस में सबसे महत्वपूर्ण ब्राह्मण नेता हो गए हैं। उधर, सीपी जोशी को उम्मीदों के मुताबिक जिम्मेदारी नहीं मिली है।

अशोक गहलोत और सचिन पायलट की छाप साफ नजर आ रही है। जो लोग इन दोनों कैंपेन से जुड़े हैं, उन्हें कमेटियों में कहीं न कहीं समाहित किया गया है। लेकिन इनके अलावा प्रदेश के जितने भी बडे नेता है उन्हें जिम्मेदारी तो दी गई है लेकिन उनके समर्थकों को कमेटियों में जगह नहीं मिल पाई है। लगातार बयान देकर चर्चा में रहने वाले विश्वेन्द्र सिंह को किसी भी कमेटी में शामिल नहीं करना हैरानी भरा हैं।

सीपी जोशी को नहीं मिली उम्मीदों के मुताबिक जिम्मेदारी
माना जा रहा था केंद्र और राज्य में बिना पद के नेता डॉ. सीपी जोशी को समितियों में कैंपेनिंग कमेटी अध्यक्ष या कोई दूसरी बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी लेकिन उन्हें पब्लिसिटी एंड पब्लिकेशन कमेटी का अध्यक्ष बनाने से साफ हो गया है कि राजस्थान की राजनीति में अब डॉ. सीपी जोशी हाशिये पर आ गए हैं। डॉ. सीपी जोशी से पहले से नॉर्थईस्ट सहित तमाम राज्यों के प्रभारी की जिम्मेदारी लेने के साथ-साथ महासचिव के पद से भी मुक्त कर दिया गया था और राजस्थान में क्रिकेट यानी आरसीए की राजनीति से भी वह बेदखल कर दिए गए हैं। डॉ. सीपी जोशी को अहम जिम्मेदारी नहीं मिलने से उनके कार्यकर्ताओं और समर्थकों में निराशा है।

अशोक गहलोत ने जयपुर में दिया था सूची को अंतिम रूप
कांग्रेस संगठन महासचिव अशोक गहलोत पिछले 2 दिनों से जयपुर में ही थे कहा यह जा रहा था कि उनकी तबीयत नासाज है लिहाजा पार्टी नेताओं कार्यकर्ताओं से मुलाकात नहीं कर पाए लेकिन इस दौरान अशोक गहलोत ने समितियों के प्रारूप को अंतिम रूप दिया दिल्ली से हरी झंडी मिलने के बाद सूचियों को जारी किया गया है।

वरिष्ठ और युवाओं और महिलाओं का समन्वय है समितियां
अशोक गहलोत को सभी समितियों के समन्वय की जिम्मेदारी मिली है तो वहीं चुनाव के लिहाज से सबसे महत्वपूर्ण प्रदेश चुनाव समिति में सचिन पायलट को चैयरमेन बनाया गया है। इसमें सचिन पायलट सहित 44 लोगों को शामिल किया गया है। पार्टी ने कुल 9 चुनाव संचालन समितियों का गठन किया है। जिसमें सभी वरिष्ठ नेताओं को जगह दी गई है। सांसद रघु शर्मा को कैम्पेन कमेटी का अध्यक्ष बनाने के अलावा घोषणा पत्र समिति में हरीश चौधरी, सीपी जोशी को प्रचार-प्रसार व प्रकाशन समिति, गोविंद डोटासरा को मीडिया और कम्यूनिकेशन कमेटी, परसादी लाल मीणा को परिवहन, रेहाना रियाज को प्रोटोकॉल और मास्टर भंवर लाल को अनुशासन समिति का चेयरमैन बनाया गया है। इन कमेटियों में उपाध्यक्ष और समन्वयकों के साथ-साथ बड़ी संख्या में सदस्यों की नियुक्ति भी की गई है।

18 प्रवक्ता और 40 पैनलिस्ट देंगे भाजपा को करारा जवाब
कांग्रेस पार्टी लंबे समय से प्रवक्ता और पैनलिस्ट के पदों की कमी महसूस की जा रही थी इसके लिए बकायदा कांग्रेस में पीसीसी स्तर पर एसईसी की टीम ने इंटरव्यू भी किए थे और आखिरकार एक मजबूत टीम कांग्रेस ने तैयार की है जो भाजपा के हाईटेक सिस्टम का मुकाबला करने में सक्षम होगी। मीडिया कॉआर्डिनेशन के लिए गोविंद सिंह डोटासरा की टीम में 7 मीडिया कॉर्डिनेटर 18 प्रवक्ता और 40 पेनालिस्ट भी बनाए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com