आमजन के लिए आमजन द्वारा

मोदी के जनसंवाद कार्यक्रम में गई डूंगरपुर की लाभार्थी महिला का मिला शव

सरकार में मचा हड़कम्प : भीलवाड़ा का लाभार्थी अभी तक है लापता

183

मूलचन्द पेसवानी/भीलवाड़ा – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जयपुर में हुए जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान लापता हुई महिला का शव आज हाईवे के किनारे मिला। शव मिलने के बाद पुलिस से लेकर प्रशासनिक अमले में हड़कंप की स्थिति बन गई। जानकारी में सामने आया है कि ये महिला 7 जुलाई की रात को वापसी के दौरान अजमेर में बस से उतरने के बाद से लापता हो गई थी। मृतक महिला की उम्र 50 वर्ष थी। उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट महिला के परिजनों ने 9 जुलाई को दर्ज़ करवाई थी।

मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार सुबह लोगों को अजमेर स्थित हाईवे के किनारे एक महिला का शव दिखाई दिया। इसकी सूचना पुलिस को मिली तब अजमेर सिविल लाइन पुलिस मौके पर पहुंची। शव की शिनाख्तगी की गई तो महिला वही निकली जो जयपुर में पीएम मोदी की रैली के दौरान लापता हो गई थी।

ये था मामला
डूंगरपुर के गडावाटेश्वर पंचायत के नवाघरा से प्रधानमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम के लिए निकली लाभार्थी महिला अचानक से लापता हो गई थी। तीन दिन तक उसके घर नहीं पहुंचने पर परेशान परिजनों ने सोमवार को इसकी सूचना प्रशासन व पुलिस को दी। इस दौरान दोनों ही महकमों में हड़कम्प मच गया और दौड़-भाग शुरू हो गई।

थानाधिकारी ब्रजेश कुमार ने बताया कि गडावाटेश्वर सचिव चंद्रकांत गवेरिया ने बताया कि सात जुलाई को प्रधानमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम में आवास लाभार्थी लाभार्थी 50 वर्षीया नानी पत्नी लेंबा कटारा सहित पंचायत के लोगों लेकर गए थे। वापसी में रात्रि को अजमेर के पास होटल पर चाय पीने रुके थे। यहां नानी भी उतरी थी।

ये जताई जा रही आशंका
पुलिस की प्रारम्भिक पड़ताल में सामने आया है कि नानी जयपुर से वापस लौटते समय जमेर में चाय पीने के लिए ठहरी थी, संभवतः उस समय वह हादसे का शिकार हो गई। डूंगरपुर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने पहले तो बस चालक से संपर्क किया बाद में जब बस चालक से कोई जवाब नहीं मिला तो पुलिस को इस बारे में सूचना दी।

भीलवाड़ा का लाभार्थी भी तीन दिन से लापता
भीलवाड़ा जिले के मांडलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के राजगढ़ ग्राम से प्रधानमंत्री जनसंवाद कार्यक्रम में भाग लेने जयपुर गए अनुसूचित जाति के रोडूलाल का सोमवार तीसरे दिन भी कुछ पता नहीं चल पाया है। वृद्ध के लापता होने से उसका पूरा परिवार चिंतित है और गत दो दिनों से पुलिस थाने के चक्कर काट रहा है।

युवक के लापता होने के संबंध में काछोला पुलिस ने रविवार रात बिना नंबर की गुमशुदगी की एफआईआर दर्ज कर जयपुर के ज्योतिनगर पुलिस थाने में कांस्टेबल के जरिए भिजवाने के साथ ही पुलिस हेडक्वार्टर के मार्फत पूरे राज्य के पुलिस थानों को सूचित कर दिया गया है। रोडूलाल के पुत्र सुरेश कुमार ने बताया कि लाभार्थी सुगनी के साथ जयपुर जाने वाला कोई नहीं था इस पर सरकारी दबाव से उसके वृद्ध पिता भाभी सुगनी के साथ जयपुर गए थे, जिसे सरकारी बस वापस लेकर गांव नहीं पहुंची। बस से सुगनी अकेली ही आई थी वे भीड़ में बिछड़ गए थे। उसने कहा कि उसके पिता पहली बार जयपुर गए थे तथा उनके पास पैसे भी नहीं हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com