आमजन के लिए आमजन द्वारा

वनविभाग ने ही काट डाले दर्जन भर से ज्यादा पेड़

51

मुबारिक अजनबी/आमेट/राजसमंद – आमेट के वनविभाग के वन नाका कार्यालय में विगत दो दिनों में कर्मचारियों के आदेश पर मजदूरो ने अलग-अलग तरह के एक दर्जन से भी अधिक पेड़ काट देने से वनप्रेमियों व वार्ड वासियां में जबरदस्त रोष है। मिली जानकारी के अनुसार देवगढ़ रोड आसन गाँव के समिप वनविभाग का वन नाका का कार्यालय बना हुआ है।

हाल के दो दिनों में स्थानांतरित होकर आए सहायक वनपाल अधिकारी हुकुम सिंह के आदेश पर आसन निवासी मांगीलाल कालबेलियां ने कार्यालय की चार दिवारी के पास व कार्यालय के पीछे की जमीन पर लगाये गए नीम के 7, पीपल के 3, गुलमोर के 2, सीसम के 2, अमरतास के 2 बड़े हरे-भरे पेड़ो को पूरी तरह से काटकर पेड़ो को हरियाली विहीन कर दिया है।

हरे पेड़ काटने की जानकारी वार्ड वासियों को मिली तो पेड नही काटने के लिए वार्डवासियों ने कहा किन्तु मांगीलाल ने वनपाल के आदेश का हवाला देकर पेड़ काटने का कार्य जारी रखा। जब की हर पेड़ो को काटने पर इसी विभाग द्वारा भारी भरकम जुर्माने का प्रवाधान है। पेड़ो की कटिंग लगातार होने पर वार्डवासियों ने पेड़ काटने की जानकारी मीडिया वालो को दी गई ।

इनका कहना है   

‘‘ 1 हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी बढ़ी हुई पेड़ो की टहनियाँ काटी गई है। पेड़ या टहनियों को कटवाने के लिए कोई विभागीय आदेश नही है। कुछ पेड़ो को मजदूर ने ज्यादा काट दिया होगा तो कार्यालय जाकर पत्ता करूँगा। अभी में बाहर हूं।’’
हुकुम सिंह –सहायक वनपाल वन विभाग आमेट

‘‘ 2 हरे पेड़ो की कटिंग की गई तो सरासर गलत हुआ है। में तहसीलदार को भेजकर मामले को दिखाता हूं। हमारे विभागीय या वनविभाग के कार्य क्षैत्र की कार्यवाही होगी तो वनाधिकारियों को सुचित करा जांच करते हुए कोई दोषी हुआ तो विभागीय कार्यवाही की जाएगी।’’
कालूराम खोड़–उपखण्ड अधिकारी आमेट

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com