आमजन के लिए आमजन द्वारा

सरपंच उपचुनाव : सुआवतों का गुड़ा में सुन्दर और छाली में थावरी बाई बनी सरपंच

98

गोगुन्दा/उदयपुर – सोमवार को गोगुन्दा पंचायत समिति की छाली ग्राम पंचायत व सायरा पंचायत समिति की सुआवतों का गुड़ा ग्राम पंचायत के सरपंच के उपचुनाव हुए। छाली में कांग्रेस समर्थित सरपंच थावरी बाई को 734 वोट मिले, उसने बीजेपी समर्थित ईशा बाई को 24 वोटों से मात देकर चुनाव जीता। उधर सुआवतों का गुड़ा में तीन प्रत्याशी थे। यहां कुल 997 वोट पड़े जिनमें से बीजेपी समर्थित सुन्दर कुमारी को 756, विमला देवी को 71 व कन्या कुमारी को 98 वोट मिले। यहां सुन्दर कुमारी निर्वाचित हुई है।

उल्लेखनीय है कि सुआवतों का गुड़ा की नवनिर्वाचित सरपंच सुन्दर कुमारी झुंझारपुरा निवासी बालूराम भील की पुत्री है। बालुराम भील अध्यापक होने के साथ भील समाज विकास समिति के पदाधिकारी है और भील समाज में गहरी पैठ वाले व्यक्ति माने जाते है। सुआवतों का गुड़ा में पूर्व में हुए उपचुनाव में भाजपा समर्थित विमला देवी ने चुनाव पड़ा था और सरपंच बनी थी लेकिन कुछ समय बाद उसने पाला बदल लिया और भाजपा के लोगों से मूंह मोड़ लिया। तब वार्ड पंचों ने मिलकर उसके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाकर उसे सरपंच पद से च्यूत कर दिया। सोमवार को हुए उपचुनाव में वह फिर से प्रत्याशी बनी, इस बार उसे महज 71 वोट मिले है।

उधर छाली ग्राम पंचायत की सरपंच थावरी बाई के खिलाफ भी 6 माह पूर्व वार्ड पंचों ने अविश्वास प्रस्ताव लाकर थावरी बाई को सरपंच पद से हटा दिया गया। उपचुनाव में कांग्रेस समर्थित थावरी बाई पुनः प्रत्याशी बनी और 24 मतों से चुनाव जीता।

चुनाव परिणाम के बाद भाजपा व कांग्रेस समर्थित लोग अपनी ठपली अपना राग छेड़े हुए है। कई लोग सरपंच उपचुनाव परिणाम को आगामी विधानसभा चुनाव से जोड़कर देख रहे है। जबकि सरंपच उपचुनाव में भील समाज के वोटों की ध्रुवीकरण की कहानी सुआवतों का गुड़ा व छाली में जुदां-जुदां रही है। नतीजों से भी स्पष्ट है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.