आमजन के लिए आमजन द्वारा

मन्दसौर में बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना को लेकर माली समाज ने आरोपियों की फांसी की मांग की।

45

भीलवाड़ा – 3 जुलाई मन्दसौर शहर में विगत दिनों समाज की नन्ही बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना को लेकर मदनलाल माली एवं मथुरालाल माली के नेतृत्व में भीलवाड़ा के समस्त माली समाज के साथ ही अन्य समाजों के लोग भी भारी तादात में कृषि मण्डी में एकत्रित होकर रैली के रूप में नारे बाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचकर आरोपियों की फांसी की सजा दिलाने की मांग की।

माली महासभा के जिलाध्यक्ष गोपाललाल माली ने बताया कि मन्दसौर में नन्ही बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना को लेकर समाज में जबरदस्त रोष व्याप्त है। आज महात्मा ज्योतिबा फूले कृषि उपज मण्डी में सैकड़ों की तादात में एकत्रित होकर रैली निकालते हुए व नारे बाजी करते हुए ‘‘दिव्या को इंसाफ दो, दुष्कर्मियों को फांसी दो’’ के नारों से कलेक्ट्रेट को गुंजायमान कर दिया। तत्पश्चात् माली समाज के प्रतिनिधि मण्डल के साथ-साथ अन्य समाजों के पदाधिकारीगणों ने जिला कलक्टर शूचि त्यागी से मिलकर मन्दसौर में माली समाज की नन्ही सी बालिका के साथ अमानवीय कृत्य को लेकर महामहिम राष्ट्रपति महोदय एवं राज्यपाल महोदय के नाम ज्ञापन प्रस्तुत किया।

और मांग की कि दुष्कर्मीयो को सरेआम बीच चैराहे पर फांसी पर लटका कर उन्हें सजा दी जाए साथ ही पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा व सुरक्षा दिलाने की ज्ञापन में मांग की गई। माली ने यह भी बताया कि दिव्या को इंसाफ दिलाने के लिए समाज के सभी व्यापारीगण व कृषि मण्डी के सब्जी विक्रेताओं ने 3 घण्टे अपने कारोबार को बंद रखकर माली समाज को समर्थन दिया। समाज के लोगों ने यह भी कहा कि दिव्या को इंसाफ नहीं मिलने व किसी तरह की कार्यवाही नहीं होने पर माली समाज उग्र आन्दोलन भी कर सकता है। जिसके तहत माली समाज के व्यापारीगण व सब्जी मंडिया बंदकर भीलवाड़ा बंद भी करा सकता है।

इस अवसर पर माली समाज ट्रस्ट के अध्यक्ष बंशीलाल माली, माली सेवा युवा संस्थान के अध्यक्ष नानूराम गढ़वाल, युवा महासभा के जिलाध्यक्ष हरनारायण माली, माली समाज विकास सेवा संस्थान पुर के अध्यक्ष भैरूलाल माली, उपाध्यक्ष मीठुलाल माली, फूले सेवा संस्थान के कोषाध्यक्ष शंकरलाल गोयल, धनराज गढ़वाल, आशीष सैनी, सत्यनारायण डाबला, नानूराम गोयल, देबीलाल रागस्या, जगदीश गढ़वाल, नंदराम सतरावला, श्यामलाल मोरी, मूलचंद छुलिवाल, प्रकाश तुन्दवाल, संपत बुलिवाल, शंकरलाल माली, सत्यनारायण डाबला, सीताराम माली, गोपाल सरिवाल, महावीर सोपरिया, छीतर लावड़ा गोवर्धन गढ़वाल सहित सैकड़ों पदाधिकारीगण एवं सदस्य मौजूद थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com