आमजन के लिए आमजन द्वारा

खबरे छीपाबड़ौद से – कुलदीप शर्मा

33

                                            महिला से मारपीट के मामले में तीन गिरफ्तार

कुलदीप शर्मा/छीपाबडौद/बारां – कस्बे का हाई प्रोफाइल मामला अब चरितार्थ की और है। गुरुवार को तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। थानेदार विजेन्द्र सिंह ने बताया कि फरियादी रेशमा ने अपनी प्लाट के पीछे की गली के मामले को लेकर जगदीश, हरिश और सतीश के खिलाफ मारपीट कर ज्यादती करने का मामला दर्ज कराया था। पुलिस द्वारा दिगंबर सिंह एच सी को जांच अधिकारी बनाया था।

एक माह पूर्व हुए झगडे में तुरंत ही पुलिस द्वारा आरोपियों को शान्तिभंग में गिरफ्तार कर एसडीएम को पेश किया था, जहाँ से एसडीएम रामावतार बरनाला ने न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया। तभी उक्त मामले में पुलिस ने गहन अनुसंधान कर आरोपियों के विरुद्ध अपराध सिद्ध किया और आरोपियों की खोज प्रारंभ की। ईसी बीच कुछ दिनो पूर्व आरोपियों से परेशान हो कर फरियादि ने एसपी को ज्ञापन भी दिया था। साथ ही विषाणु प्रदार्थ से सेवन कर आत्महत्या करना चाहा था। ईस हेतु कस्बे में हंगामा फैल गया। पुलिस द्वारा तीनो आरोपियों को पकड कर न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जहाँ से 14 मार्च तक तीनो को न्यायिक अभिरक्षा में भेज दिया गया।

                                      पुरानी पेंशन योजना लागू की मांग

कुलदीप शर्मा/छीपाबडा़ैद/बारां – राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय के तत्वाधान में पुरानी पेंशन योजना लागू करने की मांग को लेकर के भारी आक्रोश और जोरदार नारेबाजी करते हुऐ तहसीलदार पन्नालाल रेगर के माध्यम से मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री के नाम से सयुक्त हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन भिजवाया गया। शिक्षक संघ के अध्यक्ष

नन्दलाल केसरी ने बताया कि संघ के प्रतिनिधि मंडल ने तहसीदार से मुलाकात की और पुरानी पेंशन लागू करने की मांग को लेकर के 400 से अधिक शिक्षकों का हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सोंपा। पिछले एक सप्ताह से ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने का अभियान चलाया गया था। सभी शिक्षकों ने पुरानी पेंशन लागू करो, नई पेंशन योजना बन्द करो, शिक्षक एकता जिंदाबाद, भारत माता की जय के जोरदार नारे लगाते हुए आक्रोश प्रकट किया। केसरी ने कहा कि 2004 से पुरानी पेंशन योजना बन्द कर दी गई है, जिससे आर्थिक असुरक्षा बढ़ी है और किसी भी तरह से यह लाभकारी नही है।

इससे प्रदेश के लाखों शिक्षकों में भारी रोष है। केसरी ने कहा कि 2004 के बाद निर्वाचित सांसद, विधायको की भी पेंशन बन्द की जाये या फिर शिक्षकों के लिये भी पुरानी पेंशन योजना लागू की जाए। कर्मचारी जीवनभर अमूल्य सेवा देश को देते है, यह उनका हक है इसे हर कीमत पर लेने का प्रयास किया जायेगा और पुरानी पेंशन योजना लागू न होने तक लगातार संघर्ष जारी रहेगा। ज्ञापन और प्रदर्शन के समय संघ के जिला उपाध्यक्ष सूरज सालवी, ओमप्रकाश सिंह भाटी, धनराज सुमन, चेतन प्रकाश मेघवाल, जगदीश चंद बैरवा व हरिओम मेघवाल उपस्थित रहे।

नही हुऐ टेन्डर, भटकते रहे संवेदक

कुलदीप शर्मा/छीपाबडोद/बारां – पंचायत समिति के अंतर्गत आने वाली तीस पंचायतो में गुरुवार को सरपंच संघ के नेत्रत्व में तालाबंदी रही और समिति की और से दी गई विज्ञप्ति के अनुसार पंचायतो में सामग्री का टेन्डर होना था, लेकिन सरपंच संघ ने ईसका विरोध किया था अतः राजीव सेवा केन्द्र पर ताला लगा दिया गया। सूचना पर सेंकडो संवेदको ने डीडी बना कर पंचायतो के चक्कर काटते रहे, करीब दोपहर बारह बजे बाद पंचायत समिति पहुंचे जहाँ प्रधान कविता मीना और संजय गोयल को टेन्डर निरस्त करने के लिए ज्ञापन भी सोंपा। यहाँ कांग्रेस के नेता भी उक्त हंगामे को सुन कर पंचायत समिति पहुंचे और प्रक्रिया को ठीक करने की मांग की।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com