आमजन के लिए आमजन द्वारा

जैसलमेर जिले को मिला पहला मंत्री, पोकरण विधायक सालेह मोहम्मद ने ली शपथ

56

जैसलमेर – मुस्लिम धर्मगुरू गाजी फकीर के पुत्र सालेह मोहम्मद ने पोकरण सीट से चुनाव लड़ा और 872 मतों से जीतकर विधायक बने। सालेह मोहम्मद को कांग्रेस ने बड़ा तोहफा देते हुए मंत्रिमंडल में शामिल किया है। आपको बता दे कि जैसलमेर जिले के किसी विधायक को प्रथम बार मंत्री पद दिया गया है। सालेह मोहम्मद को मंत्रिमंडल में शामिल करने की घोषणा के बाद जिलेभर में खुशी की लहर दौड़ गई है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने खबर मिलने के साथ ही जश्न मनाया।

गहलोत सरकार के 23 सदस्यीय मंत्रिमंडल का आज शपथ ग्रहण समारोह होगा। इसमें सालेह मोहम्मद बायतु विधायक हरीश चौधरी व अन्य विधायकों के साथ मंत्री पद की शपथ लेंगे। गौरतलब है कि इससे पहले 14 विधानसभा गठित हुई है मगर एक बार भी जैसलमेर जिले को प्रतिनिधित्व नहीं मिला। वर्तमान में उनकी उम्र 41 साल है।

आपको बता दे कि सालेह मोहम्मद मुस्लिम धर्म गुरु गाजी फकीर के पुत्र हैं। जैसलमेर की राजनीति में फकीर परिवार का शुरू से ही दबदबा रहा है। कुछ साल पहले तक फकीर परिवार पंचायती राज में ही प्रधान व प्रमुख का पद ले रहे थे और विधायक का पद आसान नहीं लग रहा था। 2008 में पोकरण विधानसभा अलग होने के साथ फकीर परिवार की ओर से सालेह मोहम्मद ने ही भाग्य आजमाया और विधायक बन गए। 2013 में हार मिली।

सालेह मोहम्मद 23 साल की उम्र में वर्ष 2000 में राजनीति में आए और पंचायत समिति जैसलमेर के प्रधान बन गए। आगे चलकर जिला प्रमुख भी बने और बाद में दो बार विधायक बने।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com