आमजन के लिए आमजन द्वारा

रमजान का आखिरी अशरा शुरू, रात्रि में भी इबादतों का दौर जारी

34

ईद की तैयारियों में जुटे मुस्लिम धर्मावलंबी

सौरभ जैन/सुनेल/झालावाड़ – रहमतों और बरकतों का पवित्र महीना रमजान अब अपने आखरी दिनों में पहुंच चुका है। रमजान का आखिरी अशरा शुरू होते ही रात को भी इबादतों का दौर शुरू हो गया है। मुस्लिम धर्मावलंबी ईद की तैयारियों में लग गए है, जिसके चलते बाजार में रौनक नजर आने लगी है और जमकर खरीददारी हो रही है।

ऐसा माना जाता है कि रमजान का पूरा महीना बरकतों और रहमतों का महीना है। इस महीने में की जाने वाली इबादतों का शवाब कई गुना ज्यादा मिलता है। यही वजह है कि मुस्लिम समुदाय के लोग इस महीने में इबादतों में ज्यादा व्यस्त रहते है। जहां एक और पुरूष मस्जिदों में रात भर जागकर इबादत करते है, वहीं दूसरी ओर मुस्लिम महिलाएं अपने-अपने घरों में इबादत में लगी रहती है।

अंतिम दिनों इबादत का विशेष महत्व

रमजान के अंतिम दिनों की रातों में इबादत करने का बहुत महत्व है। यही वजह है कि मुस्लिम समाज बड़ी संख्या में रात में जाग कर अल्लाह की इबादत में जुट गए है। वही आखिरी दिनों के रोजे रखने को लेकर बच्चों से लेकर बड़ो में उत्साह देखने को मिल रहा है जो लोग अभी तक रोजा नहीं रख पाए वह भी आखिरी दिनों के रोजे रख रहे है। भीषण गर्मी के बाद भी रोजा रखने में मुस्लिम समाज पीछे नहीं है। युवाओं के साथ ही बुजुर्ग और बच्चे भी रोजा रखकर खुदा की इबादत कर रहे है।

ईद की तैयारियां जोरों पर

रमजान के कुछ दिन ही शेष बचे है। इस कारण मुस्लिम समाजजनों में ईद को लेकर उत्साह बढऩे लगा है। घरों सहित मस्जिदों में साफ-सफाई के साथ रंगाई-पुताई का काम भी हो रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com