आमजन के लिए आमजन द्वारा

ढ़ोल में सम्पन्न हुआ वन महोत्सव, 70 हजार पौधे लगाएगी समितियां

17

गोगुन्दा/उदयपुर – आज ढ़ोल गांव में वन महोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। चारागाह विकास एवं प्रबंध समिति की ओर से ढ़ोल के ढाणा छापर स्थित चारागाह भूमि पर आयोजित वन महोत्सव कार्यक्रम में आए लोगों को पर्यावरण संरक्षण, जल संरक्षण व जैविक कृषि से संबंधित जानकारियां दी गई।

फाण्डेशन फॉर इकोलॉजिकल सर्विसेज (एफईएस) की कार्यकर्ता आशा चोलविया ने कार्यक्रम के उद्देश्य के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि चारागाह विकास एवं प्रबंध समितियों की ओर से प्रतिवर्ष वन महोत्सव कार्यक्रम किए जाते है। इन कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने का प्रयास किया जाता है वहीं पर्यावरण संरक्षण के को लेकर परस्पर अनुभव साझा किए जाते है।
वहीं एफईएस के चेतन दूबे ने कहा कि शामलात संसाधनों का विकास सभी के आपसी प्रयासों से ही संभव है। कार्य योजना बनाकर ग्राम पंचायतों के माध्यम से विकास कार्य करवा सकते है। जल शक्ति अभियान कार्यक्रम के बारे में कहा कि संस्था इस वर्ष 70 हजार पौधे विभिन्न समितियों के माध्यम से लगाएगी।

सायरा के सहायक कृषि अधिकारी कमलेश शर्मा ने वन एवं जल संरक्षण पर जानकारी देते हुए कहा कि हमारे जीवन में वन एवं जल परम आवश्क है। उन्होंने कहा कि जल का सदुपयोग करना हमारी जिम्मेदारी है। उन्होंने फसलों की जानकारी देते हुए जैविक खेती की जानकारी भी दी।

एफईएस के केसू लाल मेघवाल ने बताया कि सभा के बाद रैली निकाली गई, जिसमें सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। अपने हाथों में पौधे लिए हुए रैली में चल रहे लोगों ने पर्यावरण बचाने का संदेश दिया और चारागाह स्थल पर पहुंच कर पूजा अर्चना के साथ पौधे लगाए। इस दौरान सायरा के विकास अधिकारी भंवर सिंह भी मौजूद रहे। इस दौरान सायरा के वनपाल भारत सिंह, जनप्रतिनिधि व गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि सहित सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com