आमजन के लिए आमजन द्वारा

कारोई में उमड़ रहे है विधायक के दावेदार ! आखिर क्या है राज ?

51

दिनेश चौहान/गंगापुर/भीलवाड़ा – देश भर ज्योतिष नगरी के नाम से विख्यात भीलवाड़ा जिले के कारोईं कस्बे में इन दिनों आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर टिकिट की दौड़ में शामिल दावेदारों का जमावड़ा लगा हुआ है। देश के चारों राज्यों से टिकिट की आस लगाए बैठे राजनेताओं द्वारा यहां आकर अपना राजनीतिक भविष्य जाना जा रहा है। यहां के प्रसिद्ध ज्योतिषशास्त्री नाथूलाल व्यास, गोपाल दाधीच व गोपाल व्यास के यहां पर हर दिन 40 से 50 की संख्या में राजनीतिक दलों से जुड़े लोग अपने टिकिट और जीत के बारे में जिज्ञासा शांत करने आ रहे है।

Nathu Lal Vyas

गौरतलब है कि राजस्थान में राज्यपाल रहते हुए प्रतिभा पाटिल ने ज्योतिषशास्त्री नाथूलाल व्यास से अपना भविष्यफल जाना था जिसमें उन्हें देश का सर्वोच्च पद मिलने की भविष्यवाणी की गई थी जिसके बाद वो राष्ट्रपति भी बनी थी। राष्ट्रपति शपथ में महामहिम प्रतिभा पाटिल द्वारा पंडित नाथुलाल व्यास को भी निमंत्रण भेजा गया था। उधर करीब 2 माह पूर्व ही मध्यप्रदेश की सरकार में मंत्री और राजस्थान सरकार की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया की बहिन यशोधरा राजे सिंधिया भी पंडित गोपाल दाधीच के दफ्तर में आकर करीब तीन घँटे तक पूजा अर्चना करवा चुकी है हालाकि यशोधरा राजे पूर्व में भी कारोईं में आ चुकी है।

 

पंडित गोपाल दाधीच बताते है कि केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी उन्हें दिल्ली बुलाकर पूजा अर्चना करवाई थी और राजनीतिक हालात के बारे में ज्योतिषी आधार पर जानकारी हासिल की थी, तब उन्हें पंडित गोपाल दाधीच ने केंद्र में भाजपा की सरकार बनने की और राजनाथ सिंह को बड़ा पद मिलने की भविष्यवाणी की थी। केंद्र सरकार में मंत्री स्मृति ईरानी भी पंडित नाथुलाल व्यास के यहां आकर अपना भविष्यफल जान चुकी है। पुरे वर्ष भर ज्योतिष नगरी कारोई में राजनेताओ, ब्यूरोक्रेसी सहित बड़े सेलिब्रिटी का आना जाना होता है लेकिन अभी चुनावी सीजन में देश के चारों राज्यों के राजनेताओं का कारोई में जमावड़ा लगा हुआ है और फोन पर भी इन दिनों चुनाव लड़ने या फिर टिकिट मिलेगा या नहीं, पार्टी से बगावत करे या नहीं जैसे सवालों पर जिज्ञासा शांत की जा रही है।

गंगापुर नगरपालिका के उपाध्यक्ष लखन काकाणी भी आज पंडित नाथुलाल व्यास से स्वयं सहित उनके राजनीतिक गुरू पीसीसी मेम्बर चेतनप्रकाश डीडवानिया की राजनीतिक संभावना को तलाशने शरण में पहुँचे। उधर गुजरात के एक मोटर कम्पनी के कारोबारी पीयूष देसाई बताते हैं कि वो काफी वर्षों से कारोईं आ रहे है उनके कारोबार की समृधि में पंडित जी का आशीर्वाद समाहित है इसलिए ही उन्होंने पंडित नाथुलाल व्यास को एक नई कार गिफ्ट की है। जब इस संवाददाता द्वारा इन पंडितों से राजस्थान विधानसभा चुनाव परिणाम के बारे में प्रश्न पूछा गया सभी का मिलाजुला जवाब आया। किसी कांग्रेस को सत्ता में आने की भविष्यवाणी की तो किसी भाजपा सरकार के, फिर से आने का दावा किया है। अब देखने वाली बात यह होगी कि ज्योतिष की शरण में आने वाले दावेदारों की टिकट और जीत की नैया पार हो पाती या नहीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com