आमजन के लिए आमजन द्वारा

स्कूल में ठहराए हुए है यूपी के श्रमिक, प्रशासन नहीं कर रहा प्रभावी कार्यवाही

114

मंजूर शेख/आसींद/भीलवाड़ा – आसींद उपखण्ड की मोड़ का निम्बाहेड़ा में संचालित भैरव ईट भट्टे पर काम करने वाले 14 परिवारों के 71 जनों को स्वयंसेवी संस्था के सहयोग से मुक्त कराया गया है। रविवार रात को की गई इस कार्यवाही के बाद श्रमिकों को आसींद पुलिस थाने लाया गया पर श्रमिकों की ओर से प्रभावशाली ईंट भट्टे वाले के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। सोमवार को अपरान्ह पश्चात तहसीलदार ने वहां पहुंच कर श्रमिकों के बयान लेना प्रारंभ किया।

इस भट्टे पर काम करने वाले श्रमिक राम लखावन के भाई गया प्रसाद ने यूपी के चित्रकूट जिला कलक्टर को शिकायत कर इस ईट भट्टे पर काम करने वाले श्रमिकों का शोषण करने का मामला बताया। वहां से चित्रकूट जिला पुलिस ने आसींद पुलिस व स्वयंसेवी संस्था को बताया जिसके चलते स्थानीय प्रशासन एकदम सकते में आ गया। रविवार को देर रात को जय भीम संस्थान जोधपुर के पदाधिकारियों ने ईट भट्टे पर काम कर रहे यूपी के 14 परिवारों से बात की तो उन्होंने अपनी आप बीती बताई। इस पर सभी 70 श्रमिकों को वहां से मुक्त करा मय सामान के उनको आसींद थाने में लेकर आए।

इस कार्यवाही को अंजाम देने वाले जय भीम संस्थान जोधपुर के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को बताया कि स्थानीय प्रशासन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। पुलिस व प्रशासन पर भट्टे वाले के प्रभावशाली होने से राजनीतिक दबाव के चलते अभी तक यह कार्यवाही नहीं की जा सकी है। इस कारण श्रमिकों को फिलहाल राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय के भवन में ठहरा गया है। आज खाने-पीने का इंतजाम भी इसी स्वयंसेवी संस्था द्वारा किया जा रहा है। दोपहर बाद हरकत में आये तहसीलदार ने विद्यालय पहुंच कर श्रमिकों के बयान दर्ज करना प्रारंभ किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com