आमजन के लिए आमजन द्वारा

“एक साथी और भी था” के तहत अर्चना शर्मा ने की टोल फ़्री हैल्पलाईन की शुरूआत”

17

जयपुर – रेगिस्तान, जंगल, सर्दी, गर्मी, बर्फ़बारी परिस्थितियाँ भले कैसी भी हो लेकिन हमारे सभी सैनिक अपने घरों से बेहद दूर हमारे देश की सीमा पर इसलिए ख़ुशी ख़ुशी दिन रात तैनात रहते हैं कि हम सभी भारतवासी सुरक्षित एवं स्वतंत्र रहकर अपनी ज़िन्दगी के हर रंग को जी सके। ऐसे में अगर हमारी सरहदें उनकी हैं तो उनका परिवार हमारा है – ये कहना है उपाध्यक्ष एवं मीडिया चेयरपर्सन, राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी डॉ. अर्चना शर्मा का जिन्होंने शहीद परिवारों के लिए हाल ही में शुरू की गयी पहल “एक साथी और भी था” के तहत सैन्य परिवारों के लिए आगे आकर सामाजिक सरोकार एवं देश के सपूतों के प्रति ज़िम्मेदारीपूर्वक सार्थक पहल करते हुए टोल फ़्री हैल्पलाईन नम्बर 1800 5 729 732 की शुरूआत की है जिससे की सैन्य परिवारों के लिए हुई घोषणाओं में आ रही किसी भी प्रकार की राजकीय बाधाओं एवं आम जीवन से जुड़ी समस्याओं के लिए उनका साथ दे सकें ।

वहीं डॉ अर्चना शर्मा ने कहा कि मैं स्वयं फ़ौजी की बेटी हूं ऐसे में शहीदों के परिवारों के दर्द को बहुत क़रीब से महसूस करती हूँ। मेरा आप सभी मीडियाबंधुओं एवं सामाजिक सरोकार से जुड़ी संस्थाओं से यही निवेदन है कि हमारी इस पहल में आप भी साथ आएँ ताकि सैन्य परिवारों के लिए एक ऐसा प्लेटफ़ार्म स्थापित कर सकें कि उन्हें भी किसी प्रकार की परेशानी आने पर वो खुद को अकेला ना महसूस करें। आईये हम सब मिलकर सैन्य परिवारों के सम्बल हेतु इस महाअभियान का हिस्सा बने। जय हिन्द जय हिन्द की सेना।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com